सूचना मंत्रालय ने भी अब उठाया व्हाट्सएप की नई पॉलिसी पर सवाल

सूचना मंत्रालय ने भी अब उठाया व्हाट्सएप की नई पॉलिसी पर सवाल

एक तरफ लोग तो व्हाट्सएप की नई पॉलिसी पर सवाल तो उठा ही रहे थे अब भारत की केंद्र सरकार ने भी इसपे सवाल उठाये है. इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने 'व्हाट्सएप' (WhatsApp) से अपनी प्राइवेसी पॉलिसी में किए गए विवादित बदलावों पर जवाब मांगा है और इस पॉलिसी के कार्यान्वयन में भारतीयों के प्रति कंपनी के रवैये की निंदा की है।
व्हाट्सएप के सीईओ विल कैथार्ट  को संबोधित एक पत्र में, इलेक्ट्रॉनिक्स मंत्रालय ने फेसबुक के स्वामित्व वाली ऐप की नई प्राइवेसी पॉलिसी को भारतीयों पर एक ‘प्रतिकूल प्रभाव’ डालने वाला माना। इसके अलावा, यह भी पोइंट आउट किया कि व्हाट्सएप 'अत्यधिक आक्रामक और बारीक मेटाडेटा' इकट्ठा करने के साथ-साथ फेसबुक कंपनियों के साथ इस तरह की जानकारी साझा करने से ‘सूचनात्मक गोपनीयता, डेटा सुरक्षा और यूजर्स के चयन पर प्रभाव डालेगा’। भारत सरकार ने कड़े शब्दों में व्हाट्सएप के भारतीय नागरिकों को उनकी प्राइवेसी पॉलिसी में हुए बदलावों को स्वीकार करने के लिए ‘मजबूर’ करने पर नाराजगी व्यक्त की और बताया कि ‘कैसे उन्हें डेटा शेयरिंग से ऑप्ट-आउट करने का विकल्प नहीं दिया गया था जो यूरोपीय यूजर्स के लिए उपलब्ध था’। 

पत्र में ये भी लिखा गया है कि ‘पॉलिसी ने उस कंपनी के उद्देश्य के लिए एक फेसबुक कंपनी के साथ साझा की गई जानकारी के उपयोग पर रोक लगा दी है, जबकि यह खंड भारतीय यूजर्स के लिए प्राइवेसी पॉलिसी में मौजूद नहीं था’ और भारतीय नागरिकों के प्रति इस ‘भेदभावपूर्ण व्यवहार’ की आलोचना की जो ‘सम्मान की कमी’ को दर्शाता है। 
एक अनुमानित प्रश्नावली में, मंत्रालय ने व्हाट्सएप को भारत में प्रदान की गई सेवा, वो सटीक श्रेणियां जिनके तहत डेटा एकत्र किया जाएगा, विभिन्न व्हाट्सएप एप्लीकेशन द्वारा जरूरी अनुमतियों और सहमति का विवरण यदि कंपनी एप्लिकेशन उपयोग के आधार पर यूजर्स की प्रोफाइलिंग करती है जैसी अन्य चीजों का विवरण देने को कहा है। 
इसने व्हाट्सएप को अपनी डेटा सुरक्षा नीति, सूचना सुरक्षा नीति, साइबर सुरक्षा नीति, गोपनीयता नीति और एन्क्रिप्शन नीति को प्रस्तुत करने के लिए कहा जो भारत में लागू थी। इसने सर्वर के प्रति व्हाट्सएप की प्रतिक्रिया भी मांगी, जिसमें भारतीय यूजर्स के डेटा को होस्ट और प्रसारित किया गया है और पूरी टेकनिकल आर्किटेक्टर प्रदान करने के लिए कहा है।

व्हाट्सएप ने घोषणा की है कि उसने प्राइवेसी अपडेट करने का अपना प्लान कुछ दिनों के लिए स्थगित कर दिया है। जिससे उपयोगकर्ताओं को नीति की समीक्षा करने और फेसबुक के स्वामित्व वाले मैसेजिंग ऐप की शर्तों को स्वीकार करने के लिए अधिक समय मिलेगा।
कंपनी ने कहा कि लोगों के बीच "गलत सूचना" होने की वजह से प्राइवेसी अपडेट प्लान को स्थगित करने का निर्णय लिया गया है।
ब्लॉग पोस्ट में कहा गया है कि ने कहा कि 'अब हम उस तारीख से पीछे हट रहे हैं, जिसनें कहा गया था कि आठ फरवरी को उन लोगों के अकाउंट को बंद कर दीजिएगा जो व्हाट्सएप की प्राइवेसी प्लान को स्वीकार नहीं करेंगे।

IMG-20210216-WA00451.jpg

Leave a comment

Please login to post comments
Login

0 Comments