Breaking News :

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष द्वारा आर्थिक विकास के अनुमान में कटौती के बाद शेयर बाजार में गिरावट

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष द्वारा आर्थिक विकास के अनुमान में कटौती के बाद शेयर बाजार में गिरावट

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) द्वारा देश में लगभग चार महीनों में दूसरी बार आर्थिक विकास के अनुमान में कटौती के बाद भारतीय शेयर बाजार में बुधवार को गिरावट रही। 

वैश्विक बाजारों से कमजोर संकेतों के बीच प्रमुख शेयर सूचकांक सेंसेक्स में बुधवार को शुरुआती कारोबार के दौरान 200 अंकों से अधिक गिरावट हुई और एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और आईटीसी जैसे शेयरों में खासतौर से बिकवाली देखने को मिली। इस दौरान 30 शेयरों पर आधारित बीएसई इंडेक्स 214.94 अंक या 0.53 प्रतिशत की गिरावट के साथ 40,410.57 पर कारोबार कर रहा था। दूसरी ओर एनएसई निफ्टी 77.05 अंक या 0.65 प्रतिशत गिरकर 11,857.45 पर था। 

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने भारतीय अर्थव्यवस्था में इस वर्ष 10.3 फीसद के जबरदस्त संकुचन का अनुमान जताया है। वहीं, इस वर्ष वैश्विक अर्थव्यवस्था में 4.4 फीसद की गिरावट और 2021 में 5.2 प्रतिशत की तेज वृद्धि के साथ आगे बढ़ने की संभावना व्यक्त की गई है।

आईएमएफ के मुताबिक 2021 में भारतीय अर्थव्यवस्था में संभवत: 8.8 फीसद की जोरदार वृद्धि दर्ज की जाएगी। इस बीच, J&J के COVID-19 वैक्सीन परीक्षणों को रोकने के बाद वैश्विक बाजार की धारणा प्रभावित हुई है, हालांकि, ट्रायल रोकना एक सामान्य प्रक्रिया है।

अधिक गिरावट वाले शेयर :-

सेंसेक्स में सबसे अधिक तीन प्रतिशत की गिरावट ओएनजीसी में हुई। इसके अलावा एनटीपीसी, पावरग्रिड, अल्ट्राटेक सीमेंट, आईटीसी, एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और एचडीएफसी भी लाल निशान में कारोबार कर रहे थे। दूसरी ओर टाटा स्टील, भारती एयरटेल, एचसीएल टेक, एशियन पेंट्स और बजाज ऑटो में तेजी देखने को मिली।

पिछले सत्र में सेंसेक्स 31.71 अंक या 0.08 प्रतिशत बढ़कर 40,625.51 अंक पर बंद हुआ था, जबकि एनएसई निफ्टी 3.55 अंक या 0.03 प्रतिशत बढ़कर 11,934.50 अंक पर बंद हुआ। शेयर बाजार के आंकड़ों के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशकों ने मंगलवार को सकल आधार पर 832.14 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे।

किसी बड़े आर्थिक आंकड़े या संकेत के अभाव में रुपया बुधवार को शुरुआती कारोबार के दौरान सीमित दायरे में कारोबार कर रहा था और इसमें अमेरिकी डॉलर के मुकाबले दो पैसे की बढ़त के साथ 73.33 के स्तर पर कारोबार हो रहा था। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार रुपया एक सीमित दायरे में कारोबार कर रहा था।

भारतीय मुद्रा अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 73.39 पर खुली, और तेजी के साथ 73.33 के स्तर पर पहुंच गई, जो पिछले बंद भाव के मुकाबले दो पैसे अधिक है। रुपया मंगलवार को डॉलर के मुकाबले 73.35 पर बंद हुआ था।

मंगलवार को दुनियाभर के बाजार में गिरावट देखने को मिली। अमेरिकी बाजार डाउ जोंस 157.71 अंक नीचे 28,679.80 पर बंद हुआ था। वहीं, नैस्डैक भी 5 अंकों की हल्की गिरावट के साथ 12083.20 अंकों पर बंद हुआ। एसएंडपी 500 इंडेक्स 22.29 अंक नीचे 3,511.93 के स्तर पर बंद हुआ था।

Related News

sidebar-banner2.jpg

Leave a comment

Please login to post comments
Login

0 Comments