भारत के शेयर बाजार ने रचा इतिहास

भारत के शेयर बाजार ने रचा इतिहास

कोरोना माहमारी में बाज़ार का हाल पूरी तरह बेहाल हो गया था.शेयर बाजार लगातार नीचे की ओर गिर रहा था लेकिन हाल ही में जब दुनिया के सबसे ताकतवर देश की सत्ता बदल रही थी तो उस समय कुछ और भी बदल रहा है. उस ऐतिहासिक पल में भारत का शेयर बाजार भी इतिहास लिख रहा था. भारतीय शेयर बाजार ने ऐतिहासिक ऊंचाई को छू लिया है. सेंसेक्स ने 50 हजार का स्तर पार कर लिया है. आज सेंसेक्स 266.96 अंकों के उछाल के साथ 50 के पार चला गया. इधर, निफ्टी भी 79.10 अंकों की तेजी के साथ 14,723 के स्तर पर पहुंच गया.

शेयर बाजर में आई तेजी की कारण अमेरिका के नए राष्ट्रपति जो बाइडेन से जोड़कर देखा जा रहा है. क्योंकि, जे बाईडेन की ताजपोशी के बाद से ही अमेरिकी बाजार में जो शानदार तेजी आई है. वहीं, सेंसेक्स की इस ऐतिहासिक बढ़त से निवेशक खुशी से फूले नहीं समा रहे.दरअसल, अमेरिका में नयी सरकार से नये राहत उपायों की उम्मीद में वैश्विक बाजारों में तेजी रही. आइटी, एनर्जी और ऑटो कंपनियों के शेयरों में मजबूती आयी जिससे  घरेलू शेयर बाजार नयी रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गये थे. दिन के कारोबार के दौरान सेंसेक्स पहली बार 49,874 के उच्च स्तर को छुआ.

वहीं, निफ्टीभी 14650 के पार निकल गया था. पर कारोबार के अंत में बीएसइ का 30 शेयरों वाला सूचकांक सेंसेक्स 393.83 अंक यानी 0.80 प्रतिशत की बढ़त के साथ 49,792.12 अंक के नये रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ. इसी तरह एनएसइ का निफ्टी 123.55 अंक यानी 0.85 प्रतिशत उछलकर 14,644.70 अंक के उच्च स्तर पर पहुंच गया.2021 में बाजार में एक अंकों की बढ़ोतरी हो सकती है.एजेंसी ने कहा कि उसे उतनी अधिक तेजी की उम्मीद नहीं है और उसने 50 शेयरों पर आधारित निफ्टी सूचकांक के 2021 के अंत तक 15,000 अंक के स्तर पर पहुंचने का अनुमान जताया.

IMG-20210216-WA00451.jpg

Leave a comment

Please login to post comments
Login

0 Comments